[the_ad id='16714']

BJP के खिलाफ भारी संख्या में पटना की सड़क पर उतरे जदयू कार्यकर्ता, प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने कहा- जातिगत गणना पर भाजपा का असली चेहरा हुआ बेनकाब

पटना- 01 सितंबर। केंद्र सरकार द्वारा जाति आधारित गणना रोकने की साजिश एवं अन्य जनविरोधी नीतियों के खिलाफ पटना महानगर एवं पटना ग्रामीण जदयू ने संयुक्त रूप से शुक्रवार को पोल खोल अभियान के तहत प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा के नेतृत्व में मशाल जुलूस एवं कैंडल मार्च निकाला गया। कैंडल मार्च वीरचंद्र पटेल मार्ग स्थित पार्टी मुख्यालय से इनकम टैक्स गोलंबर एवं डाकबंगला चौराहा होते हुए पटना जंक्शन के समीप हार्डिंग पार्क तक निकाला गया।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा ने केंद्र सरकार को जमकर निशाने पर लिया। उन्होंने तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि देश की मौजूदा सरकार दलितों, पिछड़ों एवं गरीबों को उनके वजीफा हकों से वंचित रखने के लिए अलग-अलग हथकंडे अपना रही है। बिहार में भारतीय जनता पार्टी के नेता जाति आधारित गणना की सराहना करते हैं, वहीं दूसरी तरफ केंद्र सरकार सर्वोच्च न्यायालय में जाति आधारित गणना के खिलाफ हलफनामा दायर करती है। भाजपा की यह दोहरी नीति बिहार और देश की जनता समझ रही है।

कुशवाहा ने कहा कि जाति आधारित गणना पर भाजपा का असली चेहरा बेनकाब हो चुका है। भाजपा के इसी मानसिकता से प्रदेश की जनता को आगाह करने के लिए पार्टी ने प्रदेशव्यापी पोल खोल अभियान चलने का निर्णय लिया है, जो तीन चरणों में क्रमवार तरीके से चलाया जाएगा। आज पटना महानगर एवं पटना ग्रामीण के अलावा शेखपुरा, कटिहार नगर एवं कटिहार ग्रामीण,मधुबनी,नवादा,बक्सर, सीवान,शिवहर एवं मधेपुरा में पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मशाल जुलूस निकालकर पोल खोल अभियान की शुरुआत की है।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!