[the_ad id='16714']

MADHUBANI:- 53 केंद्रों पर शांतिपूर्ण इंटर परीक्षा शुरू, विलंब से पहुंचे दो दर्जन से अधिक छात्र व छात्राएं परीक्षा से वंचित, महिला कॉलेज गेट पर रोती विलखती रही छात्रा को नही मिला प्रवेश

मधुबनी- 01 फरवरी। जिले के सभी 53 केंद्रों पर शांतिपूर्ण व कदाचार मुक्त माहौल में इंटरमीडिएट परीक्षा-2024 गुरुवार से शुरू हो गया। पहले दिन परीक्षा में सख्ती एवं जांच के बाद ही परीक्षार्थियों को परीक्षा केन्द्र में प्रवेश करने दिया गया। दंडाधिकारी के नेतृत्व में हर केंद्रों पर पुलिस बलों की तैनाती की गयी है। हर केंद्रों पर केंद्राधीक्षक एवं वीक्षकों को कदाचार मुक्त माहौल परीक्षा संपन्न सुनिश्चित करने की जिम्मवारी दी गयी है। जिला मुख्यालय में शिवगंगा बालिका उच्च विद्यालय में बनाये गये आदर्श परीक्षा केंद्र पर छात्राओं के प्रवेश से पहले गेट पर लगे फीता को काटकर डीईओ राजेश कुमार ने उसका उद्घाटन किया। इस दौरान डीईओ ने छात्राओं के बीच टॉफियां का वितरण किया। परीक्षा दो पालियों में आयोजित हो रही है। जिसमें प्रथम पाली 9ः30 पूर्वाह्न से 12ः45 अपराहन तक एवं द्वितीय पाली 2 बजे अपराहन से 5ः15 बजे अपराह्न तक आयोजित की गयी है।

जयनगर के एक परीक्षा केन्द्र जांच करती पुलिस कर्मी—

वहीं परीक्षा केन्द्र में महिला कॉलेज,शिव गंगा बालिका प्लस टू उच्च विधालय सहित जिले के विभिन्न केंद्रों पर विलंब होने की वजह से परीक्षार्थियों को प्रवेश नहीं करने दिया गया। दो तीन मिनट विलंब के बाद भी प्रवेश नहीं करने की शिकायत छात्र एवं अभिभावकों ने की। महिला कॉलेज पर पहली पाली में परीक्षा देने पहंची रागिनी कुमारी को प्रवेश नहीं करने दिया गया। इसके बाद छात्रा रागिनी कुमारी वहां पर भूमि पर गिरकर जोर जोर से रोने लगी। उनकी चिल्लाहट एवं चीख सुनकर लोगोां की भीड़ जमा हो गयी। छात्रा परीक्षा केंद्र पर रोती विलखते हुए गुहार लगाती रही कि एक वर्ष मेरा बर्बाद हो जाएगा। उन्होने बताया कि जाम के कारण वह परीक्षा केन्द्र पर सिर्फ तीन मिनट विलंब से पहुंची थी। वहीं कई छात्रों ने बताया कि शहर में जाम के कारण कई स्थानों पर पहुंचने में विलंब हुआ है।

53 केंद्रों पर 12 फरवरी तक होगी परीक्षा—
जिले में इंटरमीडिएट परीक्षा-2024 में कुल 47 हजार 772 परीक्षार्थी सम्मिलित होने के लिए अपना फॉर्म भरा है। 23666 जहां छात्र और 24 हजार 106 छात्राएं परीक्षा में शामिल होने के लिए अपना फॉर्म भरा है। कला विषय में कुल 29555 परीक्षार्थी सम्मिलित हो रहे हैं। जिसमें से 19270 छात्राएं एवं 10285 छात्र शामिल होंगे। वहीं वाणिज्य संकाय में सबसे कम 5115 परीक्षार्थी सम्मिलित होंगे जिसमें 4001 छात्र व 1114 छात्राएं परीक्षा में सम्मिलित होंगी। जबकि विज्ञान संकाय में कुल 13102 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित होंगे, जिसमें से 9380 छात्र व 3722 छात्राएं शामिल हो रहे हैं।

छात्राओं के लिए अनुमंडल मुख्यालय में केंद्र—
इस बार भी परीक्षा में सभी छात्राओं के लिए अपने संबंधित अनुमंडल मुख्यालय में ही परीक्षा केंद्र निर्धारित किया गया है। लडकों के लिए सभी 20 परीक्षा केंद्र सदर अनुमंडल में बनाए गए हैं। जबकि छात्राओं के लिए सदर अनुमंडल में 11, बेनीपट्टी में 5, जयनगर में 5, झंझारपुर में 7 व फुलपरास में 05 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। सदर अनुमंडल में लडकों का परीक्षा केंद्र बनाया गया है। यहां लडकों के कुल 20 परीक्षा केंद्रों पर 23666 छात्र परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। जबकि छात्राओं के लिए 11 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं जहां 7575 छात्राएं परीक्षा में सम्मिलित होंगे। बेनीपट्टी में 4229,जयनगर में 3361,झंझारपुर में 4165 व फुलपरास में 4776 छात्राएं परीक्षा में सम्मिलित होंगी।

केंद्र के आसपास भी कड़ी निगरानी—
परीक्षा केंद्र के आस-पास की फोटोस्टेट,चाय पान,किताब आदि की दुकान परीक्षा के दौरान पूर्ण रूप से बंद किया गया है। परीक्षा केंद्र के मुख्य द्वार के साथ-साथ परीक्षा केंद्र के अंदर भी कड़ी निगरानी की जा रही है। डीईओ राजेश कुमार ने बताया कि किसी भी परीक्षार्थी के पास मोबाइल या इलेक्ट्रॉनिक गजट पाया जाता है तो संबंधित वीक्षक पर भी जबाबदेही तय की जाएगी। सभी विक्षकों की प्रतिनियुक्ति कंप्यूटरीकृत तरीके से रेंडमाइजेशन पद्धति द्वारा की गई है। सभी परीक्षा केंद्रों पर पर्याप्त पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गई है और परीक्षा भवन के सामने और पीछे के परिसर का विडियो रिकॉर्डिंग भी करवाया जाएगा।

क्या कहते हैं डीईओ—
जिला षिक्षा पदाधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि सभी केंद्रों पर शांतिपूर्ण परीक्षा शुरू हुई है। इन्होंने बताया कि विलंब से आने के कारण केंद्रों पर परीक्षार्थियों को प्रवेश नहीं दिया गया है। इन्होंने सभी परीक्षार्थियों से समय से केंद्र पर पहुंचने का आह्वान किया है।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!