[the_ad id='16714']

CM नीतीश ने गया के तेतर जलाशय का किया निरीक्षण, दिया निर्देश

पटना- 08 अक्टूबर। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को गया जिले के तेतर में गंगाजल आपूर्ति योजना अंतर्गत तेतर जलाशय का निरीक्षण किया। कार्यक्रम के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हम लोगों ने तय किया था कि गंगाजल गया, बोधगया, नवादा और राजगीर में पहुंचायेंगे । गया और बोधगया के लिये गंगा नदी का पानी सालों भर के लिए यहीं पर स्टोर रहेगा। यहीं से पानी गया और बोधगया भेजा जाएगा। इसका निरीक्षण करने हम यहां आये थे।

सीएम ने कहा कि हम चाहते हैं कि तेजी से सभी काम पूरा हो जाय ताकि इन जगहों पर लोगों को गंगाजल मिलने लगे। यह बहुत खुशी की बात है। बिहार में गयाजी और गंगाजी दोनों हैं। अब गया जी के लिए गंगाजी यहां आ गई हैं। यह कोई मामूली बात नहीं है। गंगा नदी का जल गयाजी के लिए पहुंच रहा है, यह बहुत बड़ी बात है।

उन्होंने कहा कि हमलोग चार महीने गंगा नदी का पानी यहां लायेंगे, बाकी आठ महीने के लिए गंगाजल यहीं पर स्टोर हो जाएगा। गया, बोधगया, नवादा और राजगीर के लोगों को गंगा नदी का पानी उपलब्ध हो सके इसके लिए यह सब किया जा रहा है। गया में पहले पानी की दिक्कत होती थी। वर्ष 2006 में हम यहां आये थे तभी पता चला था कि लोगों को पानी की परेशानी हो रही है। इसे देखते हुए हमलोगों ने

गंगाजल पहुंचाने की योजना पर काम करने का फैसला किया। हम लोगों ने वर्ष 2019 में जल- जीवन – हरियाली अभियान की शुरुआत की। एक बार पहले भी हमने सोचा था कि इन जगहों पर पानी पहुंचायेंगे लेकिन उस समय इस पर काम नहीं हो सका। हमने फिर से बैठक कर इस योजना को शुरू करने का फैसला लिया। इस योजना पर लगभग साढ़े चार हजार करोड़ रुपये खर्च हुआ है। कहीं पर किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं हो इसको लेकर आगे भी रुपये खर्च किये जायेंगे।

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि गंगा नदी के पानी का ट्रीटमेंट कर उसे प्यूरिफाई कर पीने के लायक बनायेंगे और उसे घर-घर तक पहुंचायेंगे। गंगा नदी का पानी राजगीर के बाद गया भी पहुंच गया है। एक साथ सभी जगहों पर आपूर्ति शुरू हो गयी है, यह बड़ी खुशी की बात है। गया जलाशय योजना का नामकरण हम लोगों ने गंगा जी गया जलाशय योजना कर दिया है। लोगों को अपने घर में गंगाजल मिलने से काफी खुशी होगी। गया, बोधगया, राजगीर और नवादा ऐतिहासिक जगह है। हमलोग चाहते थे कि इन जगहों पर गंगा नदी का पानी पहुंचा दें। हम तो हर जगह जाकर वहां का काम देखते रहते हैं।

सीएम ने कहा कि नवादा के लिए भी मैंने कहा है कि वहां का काम तेजी से कराइए। गया, बोधगया और राजगीर यह सब बहुत महत्वपूर्ण एवं ऐतिहासिक जगहें हैं और यहां आने का रास्ता नवादा होकर ही है। इसके लिए जो एक्सपर्ट हैं उन्हें इस काम में लगाया गया है। जमीन के अंदर से किस तरह पानी को लाया गया है, एक-एक जगह जाकर हमने खुद काम को देखा है कि किस तरह पानी वहां पहुंचेगा। एलाइनमेंट क्या होगा, पानी किस रूट से होकर इन जगहों पर पहुंचेगा, उसको लेकर भी अधिकारियों से बात की गयी और उन्हें आवश्यक निर्देश दिये गये। इस साल के अंत तक कार्य पूर्ण हो जाने की उम्मीद है।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!