[the_ad id='16714']

काव्य प्रस्तुतियों के जरिये ITC सनराइज़ मसाले ने दिखाया ‘स्वाद बिहार का’

दरभंगा-01 फरवरी। आईटीसी लि. के सनराइज़ मसाले ने अपना ‘स्वाद बिहार का’ कैंपेन को आगे बढ़ाते हुए बिहार के 14 स्पोकन-वर्ड आर्टिस्ट से हाथ मिलाने की घोषणा की है। इस पहल के जरिये,आईटीसी सनराइज़ मसाले द्वारा राज्य की समृद्ध साहित्यिक विरासत का उत्सव मनाया जाएगा। इसके लिए 14 आकर्षक विडियो रिलीज़ किए जाएंगे, जिनमें बिहारी साहित्य के खजाने की झलक देखने मिलेगी।
इस पहल से जुड़े स्वास्तिका राजपूत और अंशुमान सिंह जैसे कलाकार स्पोकन-वर्ड पोएट्री के जरिये अपना गहरा भावनात्मक जुड़ाव व्यक्त करते हैं।

वहीं प्रियेश सिंह हास्य के माध्यम से क्षेत्रवाद से रूढ़ीवादी मान्यताओं की असलियत बताते हैं। साहिल कुमार बेहतरीन कविताओं के जरिये अपनी कला के सफर का श्रेय बिहार की सांस्कृतिक जड़ों को देते हैं। यह वीडियो सीरीज़ एक ऐसी मिसाल है, जो यह दिखाती है कि ‘स्वाद बिहार का’ कैंपेन ने स्थानीय कलाकारों को एक मंच प्रदान किया है। इस मंच के जरिये यह कलाकार बिहार से अपने निजी जुड़ाव के बारे में बताते हैं, अपनी मधुर यादों को ताज़ा करते हुए, अपने गृह जिलों के अनुभव साझा करते हैं।
इस पहल के बारे में बात करते हुए, श्री पियूष मिश्रा, बिजनेस हेड, सनराइज़ मसाले ने कहा, “बिहार अपनी समृद्ध संस्कृति एवं विरासत के लिए मशहूर है। ‘स्वाद बिहार का’ कैंपेन बिहार की मूल संस्कृति धरोहर का उत्सव है, यह एक ऐसा सफर है जो प्रत्येक बिहारी की आत्मा से जुड़ता है। यहां के प्रतिभाशाली स्पोकन वर्ड आर्टिस्ट्स के साथ हमारी नई साझेदारी बिहार की समृद्ध विरासत का सम्मान करती है और हमारा कैंपेन स्थानीय कलाकारों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक मंच प्रदान करता है। इस मंच के जरिये यह कलाकार अपने गृह राज्य के साथ दिल से जुड़े रिश्ते को भी दर्शाएंगे।”
इस सीरीज़ के चार वीडियो सनराइज़ मसाले के YouTube, Facebook और Instagram प्लेटफॉर्म पर लाइव हो चुके हैं।
सनराइज़ मसाले ने पिछले वर्ष ‘स्वाद बिहार का’ कैंपेन लॉन्च किया है, जिसका उद्देश्य इस राज्य के साथ एक मज़बूत सांस्कृतिक जुड़ाव स्थापित करना और उपभोक्ताओं को स्थानीय स्वाद की खूबियों वाले प्रोडक्ट पेश करना है। सनराइज़ मसाले के नए पैक्स पर स्थानीय कलाकारों द्वारा बनाई गई मधुबनी चित्रकारी देखने मिलेगी। यह कला बिहार के मधुबनी जिले के नाम से जानी जाती है। इसके अलावा, उपभोक्ताओं को खुश करने के लिए सनराइज़ ने छठ पूजा के दौरान एक आकर्षक म्यूज़िक वीडियो भी रिलीज़ किया था, जिसके गीत शुभ्रा मिश्रा, निशिता झा, सलोनी भारद्वाज और श्रुति ने गाए हैं। इस म्यूज़िक वीडियो का उद्देश्य छठ महापर्व के दौरान घर वापसी की खुशियां मनाना था। इस वीडियो ने दर्शकों के दिलों को छू लिया और इसे 20 लाख से अधिक बार देखा गया है।
इन प्रयासों के माध्यम से सनराइज़ का लक्ष्य बिहार की संस्कृति का प्रदर्शन करते हुए स्थानीय प्रतिभाओं को पहचान दिलाने और उन्हें अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने हेतु एक मंच प्रदान करना है।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!