[the_ad id='16714']

तटरक्षक बल के बेड़े में शामिल हुआ 15वां एएलएच मार्क-III समुद्री हेलीकॉप्टर

नई दिल्ली- 11 अक्टूबर। भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) के बेड़े में मंगलवार को 15वां एएलएच मार्क-III शामिल कर लिया गया। इंडियन कोस्ट गार्ड ने इन एएलएच हेलीकॉप्टरों को समुद्री निगरानी, खोज और बचाव, चिकित्सा निकासी, जहाज रसद सहायता के लिए खरीदा है। इन हेलीकॉप्टरों के लिए तटरक्षक बल ने पोरबंदर, भुवनेश्वर, कोच्चि और चेन्नई में ठिकाना बनाया है। आज भुवनेश्वर के बीजू पटनायक एयरपोर्ट पर कोस्ट गार्ड एयर एन्क्लेव में हेलीकॉप्टर की ‘इंडक्शन सेरेमनी’ हुई।

मुंबई पर आतंकी हमला होने के 9 साल बाद मार्च, 2017 में 16 एडवांस लाइट हेलीकॉप्टर (एएलएच) मार्क-III के लिए हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को ऑर्डर दिया गया था। पहले बैच में मिले दो हेलीकॉप्टर 12 जून, 2021 को औपचारिक रूप से आईसीजी के बेड़े में शामिल किये गए। इसके बाद से अब तक एएलएच मार्क-III के 14 हेलीकॉप्टर इंडियन कोस्ट गार्ड में शामिल किये जा चुके हैं। इन हेलीकॉप्टरों के लिए तटरक्षक बल ने पोरबंदर, भुवनेश्वर, कोच्चि और चेन्नई में ठिकाना बनाया है। इसके अलावा देश की इकलौती त्रि-सेवा अंडमान और निकोबार कमांड (सीआईएनसीएएन) में इसी साल 28 जनवरी को दो स्वदेशी उन्नत हल्के हेलीकॉप्टर (एएलएच) एमके-III औपचारिक रूप से शामिल किये गए।

आईसीजी प्रवक्ता के अनुसार भुवनेश्वर के बीजू पटनायक एयरपोर्ट पर कोस्ट गार्ड एयर एन्क्लेव में आज 15वें हेलीकॉप्टर को ‘वाटर कैनन सैल्यूट’ देकर आईसीजी के बेड़े में शामिल किया गया। भुवनेश्वर और पोरबंदर को पहले ही चार-चार यानी आठ हेलीकॉप्टर मिल चुके हैं। इससे पहले भारतीय तटरक्षक बल के स्थापना दिवस पर 02 एएलएच मार्क-III आईसीजी कोच्चि कमान के बेड़े में शामिल किये गए थे।तटरक्षक बल को मिलने वाले 16 एएलएच में यह हेलीकॉप्टर 9वें और 10वें थे। इसके बाद एचएएल से 31 मार्च को 11वें और 12वें दो हेलीकॉप्टर मिले। इन्हें एयर एन्क्लेव कोच्चि की 845 स्क्वाड्रन में शामिल किया गया। इससे केरल, कर्नाटक और लक्षद्वीप के तट पर आईसीजी को तटीय सुरक्षा प्रबंधन में बढ़ावा मिलेगा।

आईसीजी के एक बयान में कहा गया है कि चरणबद्ध तरीके से आईसीजी में शामिल किए गए 14 में से चार हेलीकॉप्टर पोरबंदर में तैनात हैं। तटरक्षक बल की 835 स्क्वाड्रन को सेवा में शामिल किए जाने से सुरक्षा की दृष्टि से संवेदनशील गुजरात क्षेत्र में आईसीजी की क्षमता बढ़ी है। भारतीय तटरक्षक बल ने 840 स्क्वाड्रन के रूप में नया वायु स्क्वाड्रन चेन्नई में स्थापित किया है, जिसमें भी एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर मार्क-III रखे गए हैं। इसी साल 20 फरवरी को विशाखापत्तनम में हुई राष्ट्रपति की समीक्षा परेड के समय हुए फ्लाई पास्ट में तटरक्षक बल के इन समुद्री हेलीकॉप्टरों ने भी हिस्सा लिया था।

एचएएल के इंजीनियरों ने एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर मार्क-III वेरिएंट में तटीय सुरक्षा के लिए 270 डिग्री कवरेज के साथ एक निगरानी रडार लगाया है, जो कई समुद्री लक्ष्यों का पता लगाकर उन्हें वर्गीकृत और ट्रैक कर सकता है। सिंथेटिक-एपर्चर रडार, उलटा सिंथेटिक-एपर्चर रडार और मूविंग टारगेट इंडिकेशन लगाया गया है, जिसमें वेदर मोड भी है। टोही नियंत्रण के लिए सह-पायलट की ओर बहु-स्पेक्ट्रल इलेक्ट्रो-ऑप्टिक भी लगाया गया है, जो लक्ष्य प्राप्ति और सीमा की खोज करता है। हाई-इंटेंसिटी सर्चलाइट, लाउरहाइलर, 12.7-एमएम केबिन माउंटेड मशीन गन, ट्रैफिक अलर्ट और टक्कर टालने की प्रणाली लगाई गई है।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!