[the_ad id='16714']

पहले T-20 मैच में जिम्बाब्वे ने भारत को 13 रन से दी शिकस्त

हरारे- 06 जुलाई। टी-20 में विराट-रोहित के बाद का युग शनिवार को हरारे स्पोर्ट्स क्लब में जिम्बाब्वे के खिलाफ पहले मैच में भारत की 13 रन की हार के साथ शुरू हुआ।

जिम्बाब्वे को 115/9 पर रोकने के बाद, भारत आसानी से लक्ष्य का पीछा करने के लिए तैयार दिख रहा था। हालांकि, अनुभवहीन भारतीय टीम शुरुआत में ही लड़खड़ा गई, जिससे जिम्बाब्वे ने टी20 प्रारूप में भारतीय टीम के खिलाफ सबसे कम स्कोर का सफलतापूर्वक बचाव किया।

इस अप्रत्याशित जीत ने भारत की 12 मैचों से चले आ रही विजय रथ को भी रोक दिया और उन्हें इस साल टी20आई में पहली हार का स्वाद चखना पड़ा।

116 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के लिए अभिषेक शर्मा और रियान पराग का डेब्यू बुरे सपने में बदल गया। अभिषेक के बल्ले से बहुप्रतीक्षित आतिशबाजी नहीं हुई और उन्हें ब्रायन बेनेट ने शून्य पर वापस भेज दिया। 15 के कुल स्कोर पर रुतुराज गायकवाड़ (7) ब्लेसिंग मुजरबानी का शिकार बने, जबकि पराग (2), रिंकू सिंह (00) और ध्रुव जुरेल (06) ने निराश किया। कप्तान शुभमन गिल ने थोड़ा संघर्ष जरूर किया, लेकिन 31 रन के कुल व्यक्तिगत स्कोर पर सिंकदर रजा ने उन्हें बोल्ड कर पवेलियन भेज दिया। केवल 47 रनों पर 6 भारतीय बल्लेबाज पवेलियन में बैठे थे। हालांकि इसके बाद वाशिंगटन सुंदर (27) और आवेश खान (16) ने थोड़ा संघर्ष जरूर किया और भारत को 100 के करीब ले गए, लेकिन भारतीय टीम को जीत नहीं दिला सके। पूरी भारतीय टीम 19.5 ओर में केवल 102 रनों पर सिमट गई।

जिम्बाब्वे के लिए कप्तान सिंकदर रजा और तेंदई चतारा ने 3-3 और ब्रेन बैनेट, वेलिंगटन मसाकाद्जा, ब्लेसिंग मुजरबानी और ल्यूक जोंगवे ने 1-1 विकेट लिया।

इससे पहले टॉस जीतकर भारत ने पहले क्षेत्ररक्षण का विकल्प चुना, मुकेश कुमार ने मैच के दूसरे ओवर में अपनी पहली ही गेंद पर इनोसेंट कैया को आउट कर दिया। इसके बाद ब्रायन बेनेट बल्लेबाजी के लिए आए और बल्लेबाज ने एक चौका लगाकर अपना खाता खोला, दूसरे ओवर की आखिरी गेंद पर उन्होंने एक और चौका लगाया। वेस्ली मधेवेरे भी जोरदार बल्लेबाजी करने वालों में शामिल हो गए, उन्होंने और बेनेट ने खलील अहमद को चार चौके लगाते हुए 17 रन पर आउट कर दिया। रवि बिश्नोई ने पहली ही गेंद पर ब्रायन बेनेट को आउट कर भारत की साझेदारी को तोड़ा। बिश्नोई ने दिन का अपना दूसरा विकेट मधेवेरे को आउट करके हासिल किया, जो स्वीप शॉट खेलने गए और गेंद उनके स्टंप्स पर लगने से पूरी तरह चूक गए। 10 ओवर के बाद जिम्बाब्वे ने 69 रन बनाए थे। सिकंदर रजा 17 रन बनाकर पवेलियन लौटे।

15वें ओवर में वॉशिंगटन सुंदर ने जिम्बाब्वे को लगातार दो झटके दिए, उन्होंने डायन मायर्स (23) और वेलिंगटन मसाकाद्जा को गोल्डन डक पर आउट कर दिया। इसके बाद जिम्बाब्वे की टीम लड़खड़ा गई और टीम ने 17 रन पर छह विकेट गंवा दिए। जिम्बाब्वे की टीम 20 ओवर में 9 विकेट पर 115 रन ही बना सकी।
भारत के लिए रवि बिश्नोई ने 4, वॉशिंगटन सुंदर ने 2, मुकेश कुमार और आवेश खान ने 1-1 विकेट लिया।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!