[the_ad id='16714']

BIHAR:- सुधा ने बढ़ाया दूध का दाम, पशुपालकों को होगा फायदा, आमजन परेशान

बेगूसराय- 10 अक्टूबर। बिहार के सबसे बड़े दूध संग्राहक और विक्रेता कॉम्फेड के डेयरी द्वारा सुधा ब्रांड नेम से बिकने वाले अपने दूध के दाम में प्रति लीटर दो से तीन रुपये की वृद्धि कर आमजनों के जेब पर जोरदार झटका दिया है। लेकिन विभिन्न सामग्रियों के मूल्य में हो रहे वृद्धि के बीच पशुपालन किसानों को पर्व-त्योहार के अवसर पर बड़ी खुशखबरी दी है।

डॉ. राजेन्द्र प्रसाद दुग्ध संघ (बरौनी डेयरी) सहित कॉम्फेड के बिहार के सभी डेयरी को दूध आपूर्ति करने वाले पशुपालकों को 11 अक्टूबर से नई दर से भुगतान किया जाएगा। नई दर में दूध के दाम में तीन से लेकर चार रुपये प्रतिलीटर तक की वृद्धि की गई है। डेयरी द्वारा बेचे जाने वाले दूध के मूल्य में वृद्धि के बाद अब पूर्व से चले आ रहे नियमों के अनुसार फैट एवं एनएनएफ के अनुसार अब नई तालिका से भुगतान किया जाएगा तथा 3.0 से 10.0 फैट तक के दूध का मूल्य निर्धारण कर दिया गया है।

नया दर 11 अक्टूबर से प्रभावी होगा तथा इसके अनुसार अब पशुपालकों को भुगतान किया जाएगा। नए दर के अनुसार अब 3.0 प्रतिशत फैट वाले दूध का दर 29.75 से 30.94, 3.5 फैट वाले का दर 31.54 से 32.73, 4.0 फैट वाले का दर 33.32 से 34.51, 4.5 फैट वाले दूध का दर 35.60 से 36.80 तथा 5.0 फैट वाले का दर 37.41 से 38.61 रुपये प्रति लीटर तय किया गया है। इसी प्रकार 5.5 फैट वाले का दर 40.40 से 41.73, 6.0 फैट वाले का दर 40.74 से 42, 6.5 फैट वाले का दर 44.14 से 45.50, 7.0 फैट वाले का दर 47.53 से 49, 7.5 फैट वाले का दर 50.93 से 52.50, 8.0 फैट वाले का दर 54.32 से 56, 8.5 फैट वाले का दर 57.72 से 59.50, 9.0 फैट वाले का दर 61.11 से 63, 9.5 फैट वाले का दर 64.51 से 66.50 तथा 10 फैट वाले का दर 67.90 से 70 रुपये प्रति लीटर तय किया गया है।

दूध के दाम में हुई इस वृद्धि से पशुपालकों के चेहरे पर लाली आई है, लेकिन गरीब और मध्यम वर्गीय परिवार को जोर का झटका लगा है। पहले से खाद्य सामग्रियों के दौर में अप्रत्याशित वृद्धि की मार झेल रहे लोगों को अब जहां डेयरी का पैक दूध दो से तीन रुपये लीटर तक महंगा मिलेगा, वही इसका असर दूध के खुदरा बिक्री पर भी पड़ेगा तथा उसके दामों में भी तीन से चार रुपये लीटर की वृद्धि की जा रही है। ऐसे में महंगाई की मार झेल रहे लोगों की थाली से हरी सब्जी गायब होने के बाद अब बच्चों के कटोरा से दूध भी गायब हो जाएगा।

गृहणी काजल देवी, शोभा देवी एवं पुष्प देवी आदि का कहना है कि तमाम खाद्य पदार्थ के दाम में अप्रत्याशित रूप से वृद्धि हो रही है। सब्जी के दामों में अप्रत्याशित वृद्धि के बाद लोग किसी तरह दूध के सहारे खुद और बच्चों का जीवन यापन कर रहे थे, लेकिन अब दूध के दाम ने रुला दिया है। महंगाई ने बर्बाद करके छोड़ दिया। इस संबंध में दूध विक्रेताओं का कहना है कि सुधा डेयरी ने जब दूध का दाम बढ़ा दिया, तो इसका असर लूज दूध पर भी पड़ेगा दूध उत्पादन किसानों ने दाम में वृद्धि का संकेत दे दिया है।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!