[the_ad id='16714']

मुंबई में भारी बारिश से सभी आपातकालीन एजेंसियों को हाई एलर्ट पर रहने का CM का आदेश

मुंबई- 08 जुलाई। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने मुंबई सहित राज्य के कई जिलों में भारी बारिश होने के बाद सभी आपातकालीन एजेंसियों को हाई एलर्ट पर रहने का आदेश दिया है। मुख्यमंत्री ने सिर्फ जरुरी काम रहने पर ही आम नागरिकों को घर से बाहर निकलने की अपील की है। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने राज्य में बारिश की स्थिति की समीक्षा के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की बुलाई थी। इस बैठक में सीएम ने सभी आपातकालीन एजेंसियों को हाई अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर एक संदेश में, महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे ने कहा कि भारी बारिश के कारण मुंबई में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है, उन्होंने कहा, “सडक़ों पर ट्रैफिक जाम है और रेलवे लाइन पर भी यातायात प्रभावित हुआ है। रेलवे प्रशासन द्वारा ट्रैक से पानी हटाने का काम जारी है और जल्द ही यातायात बहाल करने का प्रयास किया जा रहा है।” सीएम शिंदे ने अपने पोस्ट में कहा, “मैंने सभी आपातकालीन एजेंसियों को हाई अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया है। नागरिक केवल आवश्यक होने पर ही बाहर निकलें। मैं मुंबई नगर निगम, पुलिस प्रशासन और आपातकालीन सेवाओं से भी सहयोग करने की अपील कर रहा हूं।

” मुख्यमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा, “महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे भारी बारिश के कारण राज्य और मुंबई में बाढ़ की स्थिति की समीक्षा के लिए आपदा नियंत्रण कक्ष में एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता कर रहे हैं। मुंबई के संरक्षक मंत्री एमपी लोढ़ा, राहत और पुनर्वास मंत्री अनिल पाटिल और अन्य लोग मौजूद हैं।” इस बीच, भारत मौसम विज्ञान विभाग ने 9 जुलाई, मंगलवार के लिए मुंबई के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। अगले 24 घंटों में शहर में बहुत भारी बारिश होने की उम्मीद है। मुंबई में सोमवार सुबह भारी बारिश दर्ज की गई, जिससे ट्रैफिक जाम और जलभराव हो गया। मुंबई में बारिश के बीच, बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने कहा कि पिछले 24 घंटों में कोलाबा में 83.8 मिमी और सांताक्रूज़ में 267.9 मिमी बारिश दर्ज की गई। मुंबई शहर में कुल 2547 मिमी बारिश हुई, जो इसी अवधि के दौरान औसत वार्षिक बारिश का 27 प्रतिशत है। बीएमसी ने कहा कि कुछ निचले इलाकों में भारी बारिश के कारण जलभराव हुआ और उपनगरीय ट्रेन सेवाएं बाधित हुईं। मुंबई में बारिश के कारण वर्ली, कुर्ला ईस्ट, मुंबई के किंग्स सर्किल इलाके, दादर और विद्याविहार रेलवे स्टेशन से जलभराव की खबरें मिली हैं। नगर निकाय ने यह भी कहा कि बीएमसी क्षेत्र की सबसे महत्वपूर्ण झीलों में से एक पवई झील भारी बारिश के बाद आज सुबह करीब 4.45 बजे ओवरफ्लो होने लगी। बीएमसी ने एक्स पर पोस्ट किया, “बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) क्षेत्र की सबसे महत्वपूर्ण कृत्रिम झीलों में से एक पवई झील आज सुबह करीब 4.45 बजे ओवरफ्लो होने लगी। 545 करोड़ लीटर की जल धारण क्षमता वाली इस झील के पानी का उपयोग केवल औद्योगिक उद्देश्यों के लिए किया जाता है।”

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!