[the_ad id='16714']

महाराष्ट्र में बच्चों और बुजुर्गों को मास्क लगाना जरूरी: स्वास्थ्य मंत्री

मुंबई- 22 दिसंबर। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री तानाजी सावंत ने कहा कि राज्य में बच्चों और बुजुर्गों को मास्क लगाना जरूरी है। साथ ही महाराष्ट्र के नागरिकों को कोरोना नियमावली का पालन करना आवश्यक है। तानाजी ने कहा कि महाराष्ट्र में कोरोना के नए वेरिएंट के कोई मरीज नहीं पाए गए हैं लेकिन भारत वर्ष में नए कोरोना वेरिएंट के चार मरीज पाए गए हैं। इसलिए ऐहतियात के तौर पर महाराष्ट्र के लोगों को सावधानी बरतना आवश्यक है।

नागपुर में गुरुवार को मंत्रिमंडल की बैठक के पहले मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कोरोना के नए वेरिएंट की धमक को देखते हुए अधिकारियों की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्री तानाजी सावंत, राज्य के मुख्य सचिव मनुकुमार श्रीवास्तव स्वाथ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय खंदारे सहित तमाम अधिकारी उपस्थित थे। इस बैठक के बाद स्वास्थ्य मंत्री तानाजी सावंत ने पत्रकारों को बताया कि महाराष्ट्र में कोरोना के नए वेरियंट का कोई खतरा नहीं है। कोरोना का नया वेरियंट कोरोना से चार गुना ज्यादा खतरनाक है। इसलिए घबराने की कोई बात नहीं है। उन्होंने यह भी अपील की कि बच्चे और बुजुर्ग नागरिक ज्यादा से ज्यादा मास्क का इस्तेमाल करें। अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की एयरपोर्ट पर रेंडमली थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। उन्होंने कहा कि अब पूरे प्रदेश में कोरोना के एक्टिव मरीज 132 रह गए हैं। साथ ही ऑक्सीजन और अन्य जरूरी सामग्री की जांच के भी आदेश दिए हैं। आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की थर्मल जांच की जाएगी। साथ ही राज्य सरकार ने स्टेट टास्क फोर्स गठित करने का निर्णय लिया जाएगा। टास्क फोर्स पुरानी है। इसमें डॉक्टरों की नियुक्ति को प्राधान्य दी जाएगी।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *