[the_ad id='16714']

युवती पर एसिड फेंकने में पुलिस ने 10 घंटे में 3 आरापितों को दबोचा

नई दिल्ली- 14 दिसंबर। द्वारका जिले के मोहन गार्डन इलाके में 17 साल की लड़की पर एसिड अटैक करने वाले तीन आरोपितों को पुलिस ने लगभग 10 घंटे के अंदर ही गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, जांच के दौरान पुलिस को एक अन्य मुख्य आरोपित की जानकारी भी हाथ लगी है। आरोपित को पकड़ने के लिए कई टीमों का गठन किया गया है। सभी पहलुओं पर कार्रवाई की जा रही है।

यह जानकारी द्वारका डीसीपी एम हर्षवर्धन ने दी है। वहीं, पीड़िता का इलाज सफदरजंग अस्पताल में चल रहा है। डॉक्टरों का कहना है कि लड़की का चेहरा 8 फीसदी झुलस गया है। वहीं, पीड़िता के पिता की मानें तो आंखों में भी तेजाब पहुंचा है। पुलिस के अनुसार घटना तब हुई, जब लड़की द्वारका मेट्रो स्टेशन के पास सड़क पर थी। 12वीं की छात्रा अपनी छोटी बहन के साथ सुबह साढ़े 7 बजे घर से निकली थी। तभी दो नकाबपोश बदमाश बाइक से पहुंचे और उसपर तेजाब फेंककर बाइक से फरार हो गए।

घटना में जख्मी लड़की को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हालांकि, अब पुलिस का कहना है कि लड़की खतरे से बाहर है। सफदरजंग अस्पताल में एक डॉक्टर ने बताया कि पीड़िता का चेहरा 7-8 प्रतिशत तक झुलस गया है और आंखें भी प्रभावित हुई हैं। उसे आईसीयू में रखा गया है और उसकी हालत स्थिर है।

पीड़िता के पिता ने बताया कि सुबह बेटी स्कूल के लिए साढ़े सात बजे निकली थी। अचानक छोटी बेटी दौड़ते हुए घर आई और बोली कि दीदी पर तेजाब फेंका गया है। छोटी बेटी ने आरोपितों को पहचाना कि वो पास के गली में रहने वाले सचिन और हनी नाम के लड़के थे। पीड़िता के पिता ने यह भी खुलासा किया है कि आरोपित सचिन मंगलवार रात उसके पास काम मांगने आया था, उस वक्त उसे लौटा दिया था।

पिता ने बताया कि बेटी को कभी किसी ने परेशान नहीं किया है और न ही उसकी किसी से कोई दुश्मनी थी। मेरी लाडली का साइड से चेहरा जल गया है और आंखों में भी तेजाब गया है। आरोपितों को फांसी की सजा मिलनी चाहिए।

वहीं, इस घटना को लेकर आक्रोश फैलने के बाद उपराज्यपाल वीके सक्सेना, महिला समूहों और अन्य लोगों ने प्रतिबंध के बावजूद बाजार में तेजाब उपलब्ध होने पर सवाल उठाया। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सवाल किया कि आरोपितों ने इतना साहस कैसे जुटाया होगा।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *