[the_ad id='16714']

आसनसोल में कंबल वितरण कार्यक्रम में भगदड़, 3 की मौत

आसनसोल- 14 दिसंबर। स्थानीय नगर निगम के वार्ड संख्या 27 के आरके डंगाल इलाके में बुधवार शाम में शिव चर्चा और कंबल वितरण कार्यक्रम में भगदड़ मचने से कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई और कई लोग घायल हो गए। इस कार्यक्रम में राज्य विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी भी शामिल हुए थे।

कार्यक्रम से उनके जाने के कुछ देर बाद ही कंबल वितरण के दौरान भगदड़ मच गयी। इस भगदड़ में कई महिलाएं बुरी तरह जख्मी हो गई। उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां दो की मौत हो गई। घटना में एक नाबालिग की भी मौत हुई है, जिसकी शिनाख्त नहीं हो सकी है।

घटना के बाद घायलों के साथ भाजपा पार्षद गौरव गुप्ता, टीएमसी के धनरंजन सिंह आदि जिला अस्पताल में पहुंचे। वहीं घटना के बाद मौके पर सन्नाटा छाया हुआ है। अस्पताल में जो लोग पहुंचे हैं, वह भी कुछ नहीं कह रहे हैं। वहीं वरिष्ठ भाजपा नेताओं का कहना है कि घटना के समय वह लोग वहां मौजूद नहीं थे। टीएमसी नेता वी. शिवदासन दासू ने कहा कि बहुत ही दुखद हादसा हुआ। फिलहाल राहत कार्य पर जोर दिया जा रहा है। पुलिस प्रशासन मामले पर नजर बनाये हुए है। घायलों को बेहतर इलाज देने के लिए कहा गया है।

दरअसल, आसनसोल उत्तर विधानसभा क्षेत्र के आसनसोल पूर्णिगम संख्या 27 के रेलपार क्षेत्र के रामकृष्ण दंगल में प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी के कंबल वितरण समारोह को लेकर अफरातफरी मच गई। कंबल लेने के लिए लोग दौड़ पड़े। भगदड़ में तीन लोगों की कुचलकर मौत हो गई। मरने वालों में एक 13 वर्षीय नाबालिग भी शामिल है। उसका नाम अभी तक ज्ञात नहीं है। नाबालिक ने आसनसोल के सेनरेल रोड स्थित एक निजी अस्पताल में दम तोड़ दिया। मरने वालों की इनके नाम आसनसोल नॉर्थ थाने के रेलपार रामकृष्ण दंगल निवासी 50 वर्षीय चांदमणि देवी एवं कल्ला निवासी 50 वर्षीय झाली देवी शामिल है। शाम तक हुए इस पूरे घटनाक्रम में आठ लोग घायल है। इनमें से चार आसनसोल जिला अस्पताल में भर्ती हैं। उनकी पहचान शोभा देवी, प्रेमा देवी,निशा कुमारी और प्रमिला बाउरी हैं।

आसनसोल दुर्गापुर के पुलिस आयुक्त एन. सुधीर कुमार नीलकंठम ने बताया कि इस आयोजन की अनुमति नहीं ली गई थी। घटना के बाद उद्यमियों अभी कुछ नहीं बोल रहे हैं। क्षेत्र के निवासियों ने कहा कि हालांकि कागज पर इस कार्यक्रम को शिव चर्चा कहा जाता था, लेकिन यह वास्तव में भाजपा का कार्यक्रम था। 

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *