[the_ad id='16714']

BJP राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक में बोले PM मोदी, कहा- भारत को जी-20 की अध्यक्षता मिलना गर्व की बात

नई दिल्ली- 05 दिसंबर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को यहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पदाधिकारियों की दो दिवसीय बैठक के उद्धाटन सत्र को संबोधित करते हुए आगामी लोकसभआ चुनाव के मद्देनजर पार्टी नेताओं का मार्गदर्शन किया। उन्होंने भारत को जी-20 की अध्यक्षता मिलने के महत्व और दायित्व के बारे में भाजपा पदाधिकारियों को अवगत कराया। साथ ही जी-20 की अध्यक्षता के दौरान आयोजित होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों में लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए भाजपा नेताओं को प्रेरित करते हुए कई मुद्दों पर विचार विमर्श भी किया।

जानकारी के मुताबिक, बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत को जी-20 की अध्यक्षता मिलना गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि जी-20 की अध्यक्षता के माध्यम से हमारे समक्ष भारत, भारतीयता और भारतीय संस्कृति को विश्व स्तर पर स्थापित करने का यह एक महत्वपूर्ण अवसर है।

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह ने संवाददाताओं से बातचीत करते हुए बैठक में प्रधानमंत्री ने पार्टी नेताओं को देश के सीमावर्ती इलाकों और गांवों से सीधा संपर्क बनाए रखने पर जोर दिया।

भाजपा पदाधिकारियों की इस दो दिवसीय बैठक की अध्यक्षता अध्यक्ष जेपी नड्डा ने की। इस बैठक में राष्ट्रीय पदाधिकारियों के साथ ही सभी राज्यों के प्रभारी, विभिन्न मोर्चा के प्रभारी, भाजपा अध्यक्ष, संगठन मंत्री और सह-संगठन मंत्री शामिल हैं।

यह दो दिवसीय बैठक आज दोपहर भोज के उपरांत शुरू हुई और 6 दिसंबर को रात्रिभोज के साथ इसका समापन होना है। दो दिवसीय बैठक के अंतिम दिन 6 दिसंबर को भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) बीएल संतोष के साथ केवल प्रदेश महामंत्री (संगठन) शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में जी-20 में भारत की अध्यक्षता के महत्व का विस्तार से जिक्र किया। है। सूत्रों के मुताबिक, उन्होंने प्रदेश अध्यक्षों को सलाह दी कि वे अपने राज्य में इसको जोरशोर से प्रचारित-प्रसारित करें और जी-20 की अध्यक्षता के तहत आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में जनता की ज्यादा से ज्यादा भागीदारी सुनिश्चित करने पर जोर दें।

बैठक में प्रदेश अध्यक्षों को जी-20 का महत्व और इसमें सामाजिक भागीदारी को लेकर कार्यक्रम आयोजित करने की सलाह दी गई।

उल्लेखनीय है कि भारत को गत एक दिसंबर से आधिकारिक रूप से जी-20 समूह की अध्यक्षता मिल गई है। भारत पूरे एक साल के लिए दुनिया के आर्थिक रूप से संपन्न देशों के समूह जी-20 की अध्यक्षता करेगा। अंतरराष्ट्रीय सहयोग की दिशा में जी-20 एक प्रमुख मंच है, जो वैश्विक जीडीपी का 85 फीसदी का प्रतिनिधित्व करता है। दुनियाभर के कारोबार का 75 फीसदी से ज्यादा और दुनिया की दो-तिहाई आबादी का भी यह प्रतिनिधित्व करता है।

इस दो दिवसीय बैठक में आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देजनर सशक्त मंडल सक्रिय बूथ एवं पन्ना समिति के गठन पर चर्चा होगी। केंद्रीय मंत्रियो और पदाधिकारियों के लोकसभा प्रवास योजना की प्रगति और समीक्षा पर भी विचार विमर्श किया जाएगा। इसके साथ ही बूथ स्तर पर ‘मन की बात’ कार्यक्रम के आयोजन, एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रमों की कार्ययोजना, सोशल मीडिया की कार्ययोजना पर चर्चा, जिलों में भवन निर्माण की प्रगति, प्रदेश के संगठनात्मक कार्यों की रिपोर्ट भी पेश की जाएगी।

सूत्र बताते हैं कि बैठक में भाजपा के सभी मोर्चों के कार्यों और कार्यक्रमों की रिपोर्ट के साथ ही सदस्यता अभियान पर भी राज्यवार जानकारी ली जाएगी। इसके लिए प्रदेश अध्यक्षों और महामंत्री (संगठन) को कहा गया है कि वे संगठन की गतिविधियों की रिपोर्ट के साथ बैठक में आएं।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *