चुनाव खत्म होते हीं खुली भारत-नेपाल सीमा,आवागमन शुरू, बाजारों में लौटी रौनक

बगहा- 21 नवम्बर। पड़ोसी देश नेपाल में मतदान को लेकर भारत-नेपाल बॉर्डर पिछले तीन दिनों से बंद रहा ।तीन दिनों से बॉर्डर बंद रहने से सीमावर्ती बाजारों में नेपाल के लोगों का आना जाना बंद हो जाने से उनके व्यवसाय को काफी नुकसान हुआ।नेपाल की तुलना में भारतीय बाजारों में किराना समान, सब्जी,कपडा़,हार्डवेयर,दवा,कॉस्मेटिक सामग्री आदि समान सस्ती होने के कारण सैकड़ों की संख्या में प्रतिदिन नेपाली ग्राहक भारतीय बाजारों में खरीदारी करने आते है।

सोमवार को नेपाली ग्राहक रजक क्षेत्रीय, राज किशोर उपाध्याय, संजय पंडित, रमेश मंडल, भोपाल चौधरी, लक्ष्मण थापा आदि सीमावर्ती बाजारो में पहुंच जमकर दैनिक उपभोग की वस्तुओं की खरीदारी किए।

नेपाली ग्राहक संजय पंडित ने बताया कि भारतीय बाजारों में हरा सब्जी, आलू,प्याज ,सरसो तेल, रीफाइं,चीनी,मैदा,हल्दी,आटा आदि जिस दर पर मिलता है।वह चीज नेपाल के बाजारों में 15 से लेकर 25 रूपया प्रति किलो महंगा मिलता है। तीन दिनों तक बॉर्डर बंद रहने के कारण वे घरों से नहीं निकल सके। जिसके कारण महंगे दामों पर जरूरतमंद सामान खरीद काम चलाया।बाजारों मे तीन दिनों से पसरा पडा़ हुआ सन्नाटा सोमवार को अहले सुबह से ही ग्राहकों के आ जाने से एक बारगी खत्म हो गई।दुकानदारों के चेहरो पर काफी खुशी नजर आ रही थी।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!