सोशल मीडिया से बढ़ रहे यौन शोषण व बाल अपराध

फर्रुखाबाद- 17 नवंबर। जनपद में बाल सुरक्षा सप्ताह के तहत फतेहगढ़ में स्थित म्युनिसपल इंटर कॉलेज में गुरुवार को किशोर स्वास्थ्य मंच का आयोजन किया गया। इस दौरान कॉलेज में राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरकेएसके) के तहत आयोजित हुई पोस्टर प्रतियोगिता में कक्षा 10 के अजय कुशवाहा को प्रथम, अनुज यादव को दूसरा और कक्षा 11 के अश्वनी को तीसरे पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया। इसके अलावा अन्य प्रतिभागियों को सांत्वना पुरस्कार दिया गया।

किशोर स्वास्थ्य मंच के माध्यम से किशोरों को सोशल साइट से भी बढ़ रहे यौन शोषण व बाल अपराध, कोरोना, कुपोषण, एनीमिया, माहवारी और उनमें होने वाले शारीरिक व मानसिक बदलाव के बारे में जागरूक किया गया। साथ ही किशोरों के हीमोग्लोबिन, ब्लड प्रेशर, वजन और लम्बाई नापी गई। सभी लोग स्वास्थ्य जांच में स्वस्थ निकले।

इस दौरान अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी और आरकेएसके के नोडल अधिकारी डॉ दलवीर सिंह ने बताया कि बाल सुरक्षा सप्ताह के अंतर्गत जनपद के सभी ब्लॉक एवं शहरी क्षेत्र के दो विद्यालयों में किशोर स्वास्थ्य मंच का आयोजन कर बाल यौन शोषण एवं अपराध के बारे में जानकारी दी जा रही है। शारीरिक एवम मानसिक रूप से बच्चे कैसे स्वस्थ रहें इसके प्रति भी जागरूक किया जा रहा है।

जिला सलाहकार किशोर स्वास्थ्य चंदन ने छात्रों को गुड और बैड टच के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि आपके निजी अंगों को कोई देखता है या छूता है जिसमें असहजता महसूस होती है तो ऐसा करने वालों की शिकायत माता-पिता से करें। साथ ही शासन द्वारा बनाई गई हेल्पलाइन नम्बर 1098, 112, 181 पर भी संपर्क किया जा सकता है। सोशल साइट से भी गलत व्यवहार होने की शिकायतें आने लगी हैं। यदि आपको फेसबुक, व्हाट्सएप पर कोई ऐसी टिप्पणी या पोस्ट करता है जिससे असहजता महसूस होती है, तो उसे तत्काल फ्रेंड लिस्ट से हटा दें और इसकी जानकारी माता पिता व हेल्पलाइन नंबर पर दे सकते हैं।

कक्षा 10 के छात्र अजय ने बताया कि आजकल फेसबुक पर फ्रेंड लिस्ट बढ़ाने की होड़ सी मची है। कई बार गलत व्यक्ति भी फ्रेंड लिस्ट में शामिल हो जाते हैं जो परेशानी का कारण बन जाते हैं। अब इस पर ध्यान देंगे।

कक्षा 10 के छात्र अनुज ने बताया कि इस कार्यक्रम के जरिए आज हमें यौन शोषण एवं बाल अपराध की जानकारी मिली है। यहां कई उपयोगी हेल्पलाइन बताई गई हैं। अगर कोई भी मेरे साथ गलत व्यवहार करता है तो इसकी जानकारी अपने माता पिता को जरूर देंगे।

इस दौरान म्युनिसपल इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य गिरिजा शंकर, शहरी स्वास्थ्य समन्वयक आरके एसके से संजीव, सुषमा राठौर लैब टेक्नीशियन अंकित दीक्षित और कालेज के लगभग 168 किशोर शामिल रहे।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!