हज काॅन्फ्रेंस में वर्ष 2023 की हज यात्रा को सस्ती करने पर अल्पसंख्यक मंत्री स्मृति ईरानी ने दिया जोर

नई दिल्ली- 12 नवंबर। हज कमेटी ऑफ इंडिया के जरिए दिल्ली के लोधी रोड स्थित स्कोप कॉम्पलेक्स में आयोजित हज कान्फ्रेंस 2023 में इस साल हज यात्रा को सस्ता करने पर जोर दिया गया।

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री स्मृति ईरानी की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में हज यात्रा को सुगम, सुखद और सस्ता बनाने पर बात की गई। हज कॉन्फ्रेंस में राज्यों की हज कमेटियों के चेयरमैन व सीईओ,हज कमेटी ऑफ इंडिया के उच्च अधिकारियों,अल्पसंख्यक मंत्रालय के अधिकारियों, विदेश मंत्रालय के अधिकारियों,सऊदी अरब में भारत के राजदूत और काउंसलेट अधिकारियों ने भाग लिया।

इस मौके पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि हज यात्रा को हजयात्रियों के अनुकूल बनाने के साथ हज यात्रा को सस्ती,सुगम और सुखद बनाने की जरूरत है। हज यात्रा पर प्रति यात्री पर चार लाख रुपये खर्च आ रहा है। इसको घटा कर कम से कम तीन लाख रुपये तक लाया जाना चाहिए। उन्होंने इस बात का भी उल्लेख किया कि यात्रियों को हज यात्रा के लिए उनके घर के करीब सीधे उड़ान की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए इंबारकेशन प्वाइंट की संख्या भी बढ़ाए जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि इससे हज यात्रियों को आसानी से हज यात्रा पर जाने की सुविधा मिलेगी।

बैठक में हज यात्रा से संबंधित तमाम अनियमितताओं की जांच कराने का भी आग्रह किया गया। उत्तर प्रदेश हज कमेटी के अध्यक्ष मोहसिन रजा ने बताया कि इस कान्फ्रेंस में कई फैसले लिए गए हैं, जिनमें हज यात्रियों को दिए जाने वाले बैगेज के रेट को कम करने या यह जिम्मेदारी हज यात्रियों पर छोड़ने की बात भी हुई है। मोअल्लिम की फीस को भी कम किया जा सकता है। सऊदी अरब में रहने और ट्रांसपोर्टेशन के खर्चों को भी कम करके हज यात्रा को यात्रा को सस्ता किया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि बैठक में इंबारकेशन प्वाइंट को कम करने के पूर्व में लिए गए फैसले पर भी विचार विमर्श किया गया है। उनका कहना है कि इंबारकेशन प्वाइंट को बढ़ाने की जरूरत है ताकि यात्रियों को उनके घर के करीब उड़ान भरने की सुविधा मिल सके। उन्होंने बताया कि इंबारकेशन प्वाइंट दूर होने की वजह से बहुत सारे यात्रियों को वहां तक पहुंचने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!