संभलकर- अभी भी कोरोना का खतरा बरकरार!

मुंबई- 07 नवंबर। अगर आप कोरोना महामारी से बेफिक्र हो गए हैं तो सावधान हो जाइए। कोरोना का खतरा अभी भी बरकरार है। यह तथ्य मुंबई महानगरपालिका द्वारा कोरोना के प्रसार का पता लगाने के लिए कराए गए जीनोम अनुक्रमण परीक्षण में सामने आया है। करीब 234 लोगों के हालिया परीक्षण में पाया गया है कि ओमाइक्रोन के 165, एक्सबीबी और एक्सबीबी1 वेरिएंट वाले 69 मरीज हैं। हालांकि रोगियों और मौतों की संख्या फिलहाल स्थिर है।

मुंबई मनपा कोरोना के प्रसार का पता लगाने के लिए जीनोम अनुक्रमण परीक्षण कर रही है। महानगर में वर्ष 2020 में कोरोना संक्रमण का फैलाव हुआ। इसके बाद कोरोना वायरस की चार लहर आई। कोरोना के किस वैरिएंट और सब- वैरिएंट के कारण मरीजों का संख्या बढ़ी है, इसकी खोजबीन के लिए अगस्त 2021 से जिनोम सीक्वेंसिंग का परीक्षण किया जा रहा है। इस बीच 1 से 15 अगस्त के दरम्यान कोरोना के 234 मरीजों की जांच की गई। इसमें शत- प्रतिशत यानी 234 नमूने ओमाइक्रोन वैरिएंट के पाए गए हैं। इसमें 15 फ़ीसदी यानी 36 नमूने एक्सबीबी और एक्सबीबी1 ओमाइक्रोन सब वैरिएंट के हैं।

जांच किए गए 234 मरीजों में से 0 से 20 आयु वर्ग के 24 (10%), 21 से 40 वर्ष के 94 (40%), 41 से 60 आयु वर्ग के 69 (29%), 61 से 80 आयु वर्ग के 36 (15%), 81 से 100 वर्ष के 11 (5%) के मरीज है। हालांकि इनमें कोरोना के गंभीर लक्षण नहीं पाए गए। इनमें 87 लोगों ने कोविड-19 की एक भी डोज नहीं ली है। इनमें से 15 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा जबकि उन्हें आईसीयू की जरूरत नहीं पड़ी। मुंबई मनपा के स्वास्थ्य विभाग की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. मंगला गोमरे के अनुसार कोविड-19 के नियमों का पालन करना जरूरी है। हर कोई अपने स्तर पर सतर्क रहे।

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!