समग्र विकास एवं जनोत्थान के लिए समन्वित प्रयास जरूरी

5 अगस्त : जयपुर, 4 अगस्त। अल्पसंख्यक मामलात मंत्री श्री शाले मोहम्मद ने अधिकारियों से कहा कि वे विभागीय योजनाओं और कार्यक्रमों में समर्पित भागीदारी निभाते हुए इन्हें अच्छी तरह लागू करें तथा उन लोगों तक इसका लाभ पहुंचाएं जिनके लिए ये बनी हैं। इसी प्रकार विभागीय गतिविधियों की अनुपालना और प्रगति की समीक्षा के लिए विभागवार साप्ताहिक समीक्षा बैठक करने तथा योजनाओं की सख्त मोनिटरिंग के लिए बेहतर प्रबन्ध सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।
श्री शाले मोहम्मद बुधवार को जैसलमेर में अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने ने कहा कि जनता की समस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिए भी विभागीय अधिकारी गंभीरतापूर्वक एवं समयबद्ध प्रयास करें और सुशासन का साकार करें। उन्होंने प्रभारी मंत्री द्वारा ब्लॉक स्तर पर बैठकों और जन सुनवाई कार्यक्रम को अच्छी पहल बताया और कहा कि इससे जिले के विकास के साथ ही समस्याओं के समाधान की दृष्टि से बेहतर उपलब्धियां सामने आएंगी।
बैठक की अध्यक्षता करते हुए वन राज्य मंत्री एवं जैसलमेर जिला प्रभारी मंत्री श्री सुखराम विश्नोई ने जिले से संबंधित तमाम विकास गतिविधियों, फ्लैगशिप योजनाओं, जन कल्याण कार्यक्रमों आदि की क्षेत्रवार एवं विभागवार विस्तृत समीक्षा की और इनके बारे में जिले के जन प्रतिनिधियों से फीडबेक लिया और आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदान किए।
प्रभारी मंत्री ने कहा कि अधिकारी बैठकों में पूरी तैयारी के साथ आएं और अपने कार्यकाल में क्षेत्रवासियों के कल्याण का लक्ष्य सामने रखकर विकास एवं तरक्की के नए-नए आयाम स्थापित करें।
इस दौरान श्री विश्नोई एवं श्री शाले मोहम्मद ने जैसलमेर जिले के विकास की व्यापक संभावनाओं को साकार करने जरूरी प्रस्ताव लेने, ग्रामीण विकास योजनाओं से अधिकाधिक ग्रामीणों को जोड़कर लाभान्वित करने,कोरोना संक्रमण की संभावित लहर से बचाव एवं रोेकथाम के लिए उन्होंने चिकित्सा केन्द्रों एवं अस्पतालों में संसाधनों, उपकरणों, दवाइयों, ऑक्सीजन आदि तमाम प्रबन्धों को बेहतरी बनाए रखने के निर्देश दिए। चिकित्सालय के लिए डायलिसिस की एक और मशीन खरीदने, मेडिकल कॉलेज से संबंधित गतिविधियों को रफ्तार देने, शिविरों की व्यवस्थाओं को सुधारने, सेंपलिंग प्रक्रिया में पूरी-पूरी पारदर्शिता बरतने आदि के निर्देश चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभागीय अधिकारियों को दिए गए। वैक्सीनेशन की प्रगति की जानकारी ली गई।
इसी प्रकार प्राथमिकता से बिजली कनेकशन जारी करने, जीएसएस निर्माण के लिए भूमि आवंटन कार्यवाही जल्द से जल्द पूर्ण करने, घर-घर औषधीय पौधों के वितरण की योजना और पौधारोपण कार्य को व्यवस्थित रूप से पूरा करने, सेवण घास उत्पादन को बढ़ावा देने, आगामी 2 अक्टूबर से प्रस्तावित अभियान में सामाजिक सुरक्षा योजनाओं से सभी पात्र जनों को जोड़ने के लिए तैयारी करने, जिले में पशु शिविरों के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में विभागीय दवाइयां उपलब्ध कराने, किसानों को समय पर नहरी पानी उपलब्ध कराने, पर्यटन विकास से जुड़ी हुई सभी गतिविधियों में तेजी लाने, नगरीय विकास को सुनहरा आयाम देने, सभी विभागों की योजनाओं के बारे में जनता तक व्यापक प्रचार-प्रसार करने, लक्ष्यों की शत्त-प्रतिशत प्राप्ति में अभी से ही गंभीरतापूर्वक प्रयास करने आदि के निर्देश दिए। इस अवसर पर स्थानीय विधायको ने भी विचार व्यक्त किये।
जिला कलक्टर श्री आशीष मोदी ने जिलेे की विकास गतिविधियों और  सम सामयिक स्थितियों के बारे में जानकारी देते हुए स्कूली खेल मैदानोें में व्यापक पैमाने पर वृक्षारोपण करने तथा इनके पल्लवन एवं सुरक्षा के लिए वन विभाग से सहयोग की योजना पर जोर दिया ।
विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने अपने-अपने विभाग से संबंधित गतिविधियों के बारे में जानकारी दी तथा आगामी कार्ययोजनाओं के बारे में अपवगत कराया।
जनसुनवाई की, समस्या समाधान के निर्देश दिए
प्रभारी मंत्री श्री सुखराम विश्नोई ने बुधवार को जिला कलक्ट्री में हुई बैठक के बाद जनता की समस्याओं को सुना तथा इनके निस्तारण के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया।
lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!