‘बचपन का प्यार मेरा भूल नहीं जाना रे…

छत्तीसढ़ के सहदेव नाम के एक बालक ने ‘जाने मेरी जानेमन, बचपन का प्यार मेरा भूल नहीं जाना रे’ गाया. उसके गाए गाने की एक क्लिप सोशल मीडिया पर पहुंच गई. अब हर स्टार/सेलिब्रिटी इस गाने पर वीडियो बना रहा है. सहदेव का वो वीडियो इतना चर्चित हो गया है कि राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उससे मुलाकात की. उसका गाना लाइव सुना और उसकी खूब तारीफ की. मगर क्या आपको पता है कि ये ‘जाने मेरी जानेमन’ गाना आया कहां से ?

‘जाने मेरी जानेमन’ को गुजरात के एक आदिवासी लोकगायक कमलेश बरोट ने 2018 में बनाया था. कमलेश सिर्फ इस गाने के सिंगर हैं. इसके बोल लिखे हैं राइटर पी.पी. बरिया ने और म्यूज़िक है मयूर नदिया का. इस गाने के पॉपुलर होने के बाद आज तक की टीम कमलेश से मिलने और बात करने के लिए गुजरात के हलोल पहुंची थी. इस बातचीत में कमलेश ने बताया कि उन्होंने 2018 में ये गाना बनाया था. इसके बाद अहमदाबाद की मेशवा फिल्म्स नाम की कंपनी ने उनसे इस गाने के सारे राइट्स खरीद लिए. और 2019 में अपने यूट्यूब चैनल पर रिलीज़ कर दिया. अब तक इस गाने को यूट्यूब पर 4.4 मिलियन यानी 44 लाख से ज़्यादा बार देखा जा चुका है.

lakshyatak
Author: lakshyatak

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!